7 पहाड़ियों का यह शहर इस्तांबुल दुनिया के सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थलों में है शामिल

0
643
views

 

इस्तांबुल देश का सबसे बड़ा शहर और उसकी सांस्कृतिक और आर्थिक केंद्र है। यह दुनिया का एकमात्र शहर है जो दो महाद्वीपों पर स्थित है। साथ ही इस्तांबुल एकमात्र शहर है जो तीन महान सल्तनतों की राजधानी रहा है। ३३० ई. से ३९५ ई तक रोमन साम्राज्य ने यहां रूल किया, ३९५ से १४५३ ई. तक यहां बीजान्टिन साम्राज्य ने रूल किया और १४५३ ई. से १९२३ ई तक यहां इतमानिया साम्राज्य ने रूल किया। १९७० ई के दशक में शहर के मजाफ़ात में स्थापित नए कारखानों में नौकरी के उदेश्य से पूरे देश से भारी तादाद में लोग पहुंचे। आबादी में वृद्धि के कारण इसके कई उपनगर भी बाद में शहर में शामिल हो गए।

वेबसाइट ‘ट्रिप एडवाइजर’ के मुताबिक दुनिया के टॉप डेस्टिनेशन-2014 की सूची में तुर्की के इंस्ताबुल को पहला स्थान हासिल है, पिछले साल टूरिस्ट की नजर में पेरिस सबसे पंसदीदा स्थान रहा था। इसकी एक बड़ी वजह यह भी है कि इस्तांबुल टूरिस्ट के लिए अफरेडेबल है।

क्या देखें

इस्तांबुल को “सात पहाड़ियों का शहर” भी कहा जाता है, क्योंकि शहर का सबसे प्राचीन क्षेत्र सात पहाड़ियों पर बना हुआ है, जहां हर पहाड़ी की चोटी पर एक मस्जिद स्थापित है। इस्तांबुल को तीन जिलों में बांटा गया है। तीनों जिलों की अपनी अलग खासियत है। यहां आप अंतिम मुग़ल सुल्तान का महल देख सकते हैं। यूरोप और एशिया का बॉर्डर आप देख सकते हैं।

इस्तांबुल ही वो जगह है, जहां पर यूरोप और एशिया का मिलन होता है। यहां पुराने आर्किटेक्चर के साथ आर्किटेक्चर भी है। यहां की रातें रंगीन होती है। बॉलीवुड की दो प्रमुख फिल्म ‘एक था टाइगर’ और ‘मिशन इस्तांबुल’ में इस शहर की खूबसूरती को आप देख सकते हैं। आप यहां बासिलिका सिस्टर्न घूम सकते हैं, जो कि एक रोमांटिक अट्रैक्शन है, टॉपकापी पैलेस, यह एक समय में हरम था, ब्लू मस्जिद, इस्तांबुल आर्कियोलॉजिकल म्यूजियम, टर्किश और इस्लामिक आर्ट म्यूजियम, चोरा चर्च, गलाटा टॉवर जैसी जगहों पर आप घूम सकते हैं।

कैसे जाएं

इस्तांबुल में दो एयरपोर्ट्स हैं। एक अतातुर्क इंटरनेशनल एयरपोर्ट जो शहर से २३ किलोमीटर की दूरी पर है, दूसरा सबीहा गोकसन एयरपोर्ट। सभी एयरपोर्ट से बस, टैक्सी और पब्लिक ट्रांसपोर्ट एवलेबल है। यहां पब्लिक ट्रांसपोर्ट काफी अच्छा है। यहां आपको येलो इस्तांबुल टैक्सी मिलेगा। केबल कार से भी आप जा सकते हैं। आप मेट्रो, ट्राम, मरमरी, फेरीबोट्स, से भी ट्रेवल कर सकते हैं। सुबह और शाम को यहां कुछ हद तक ट्रैफिक होता है। मरमरी यहां यूरोप और एशिया दोनों को कनेक्ट करता है। फॉरेनर्स ट्रेवलर्स के लिए मेट्रो यहां काफी कनविनिएंट है। गवर्नमेंट हो या प्राइवेट ट्रांसपोर्ट यहां सभी को सख्ती के साथ ट्रैफिक रूल का पालन करना पड़ता है।

क्या खाएं

टर्किश कुजीन काफी विविधता भरा है और पूरी दुनिया में मशहूर है। इस्तांबुल पर कई संस्कृतियों का प्रभाव रहा है, ऐसे में यहां के भोजन भी आपको कई वैराइटी में मिलेंगे। आप यहां के कुजीन ट्राई करने के बाद सबकुछ भूल जायेंगे। फूडीज के लिए यहां बहुत कुछ है, लेकिन आप इस्तांबुल के कुछ खास कुजीन जरूर ट्राई करें। नास्ते में यहां लोग कई तरह के सैलेट, सॉसेज जो बीफ से बने होते हैं, एग्स और ह्वाइट रोल में वेजिटेबल या मीट को बेक कर के या पका कर खाते हैं। एग को ऑमलेट या बॉईल कर के खाते हैं। यहां का ऑमलेट खास है। इसे भुने हुए प्याज, मिर्च, अजवाइन, लाल मिर्च काली मिर्च, कई मसाले और टमाटर डाल कर पकाया जाता है और अंत में एग डाला जाता है। आप यहां मेजे भी ट्राई कर सकते हैं। यह यहां रेस्ट्रेंट्स में अल्कोहल के साथ इसे सर्व किया जाता है। इनके अलावा, आप यहां कई तरह के कबाब, लुफेर, मांटू, कुंफे, बकलावा, बोनूस वगैरह भी ट्राई कर सकते हैं।

SONY DSC
Loading...

Leave a Reply