दस हजार फूलों से तैयार किया गया मिकी माऊस, गिनीज बुक में दर्ज हुआ नाम

इस बार डिज़्नी अपने सबसे पहले कार्टून मिकी माऊस की 90वी जन्मदिन मना रहा है जिसमें कि दूबई नें इसे सबसे शानदार तरीके से मनाया। दूबई के मिरेकल पार्क में मिकी माउस की प्रतिमा को दस हजार फूलों और तरह तरह के रंग बिरंगी पौधों की मदद से तैयार किया गया है। यह अब तक की सबसे बड़ी प्रतिमा है और इसे तैयार करने के लिए पार्क के कर्मचारियों ने दिन रात इनजीयरों के साथ मिलके काम किया है। इसे खड़ा करने के लिए सबसे पहले सात टन स्टील और पचास टन कंक्रीट की मदद से खड़ा किया गया है। इसका पूरा वजन लगभाग 35 टन के करीब है। मिकी माऊस को रंग बिरंगे अवतार में देखना बहुत खूबसूरत एहसास है। यह मिडिल ईस्ट की पहली प्रदर्शनी है जिसे फूलों से तैयार किया गया है और इसकी कुल लम्बाई 18 मीटर है। इसे बनाने में 45 दिन लगे और सभी ने मिलकर काम किया है । यह उनकीउजी तोड मेहनत की कमाई है। इसे बनाने में कुल 100 लोग लगे थे। यहयबेहद हीं खूबसूरत है और साथ ही साथ यह भी बता दें कि इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया है। डिज्नी नें मिरेकल पार्क के साथ एक डील साइन की है जिसमें यही लिखा है कि अगले साल ठंडी में जब पार्क खुलेगी तो इसमें बाकी और छःऔ कार्टून की प्रतिमा बनाइ जाएगी। गार्डन के निर्माता अब्दुल नासिर रहल का कहना है कि दुईऔर बाकी जगह के टूरिस्टों के लिए मूर्ति की प्रदर्शनी करना बहुत गर्व की बात है। उन्हें अपार खुशी की अनुभूति हो रही है। उनकाउकहना है कि ऐसी मूर्तियां लोगों डिज्नी और उसके पात्रों से जुडने मौका देते हैं । उन्होंने यह भी कहा कि इतनी खुबसूरत मूर्ति तैयार करना कोई आम बात नहीं, यह उनके वरर्क्स के दिन रात मेहनत का नतीजा है। और वे बहुत खुश हैं ।

 

Loading...

Ruchi Karn

Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account