fbpx

आज से अन्ना हजारे अनशन पर बैठे, कहा किसानों की मांगे सरकार पूरी करे

समाजसेवी अन्ना हजारे आज दिल्ली  के रामलीला मैदान में 7 साल बाद फिर अनशन कर रहे हैं । पिछले बार 2011 में अन्ना ने लोकपाल बिल की मांग को लेकर जंतरमंतर पर भूख हड़ताल की थी। केंद्र में लोकपाल नियुक्ति की अपनी मांग को लेकर उन्होंने अन्नशन पर बैठने का निर्णय लिया है।

उनके समर्थन में बड़ी तादाद में लोग रामलीला मैदान में पहुंचे है। अन्ना ने सत्याग्रह के मंच पर किसी भी राजनेता के प्रवेश पर रोक की बात कही है। अन्ना ने कहा कि सक्षम किसान, सशक्त लोकपाल और चुनाव सुधार की मांगों को जब तक केन्द्र सरकार नहीं मानती वह अनशन नहीं तोडे़ंगे। उनके अनुसार सरकार उनके आंदोलन को दबाना चाहती है। और दावा किया कि दिल्ली से आने वाले कई ट्रेन को भी रद्द कर दिया गया है।

अन्ना संगठन के जनसंपर्क अधिकारी का कहना है कि आंदोलन को राजनीति का शिकार नहीं होने देना चाहते, इसलिए सिर्फ मजदूरों और किसानों की पैरवी करने वाले संगठनों को कोर कमेटी हिस्सा बनाया गया है। सत्याग्रह में अन्ना के साथ मंच सांझा करने वाले लोगों में देश के अलग-अलग राज्यों से चुने गए 26 लोगों की कोर कमेटी के सदस्य शामिल हैं।

राजनीति के खेल पर तल्ख टिप्पणी करते हुए अन्ना बोले अगर उनकी मांगें पूरी नहीं की गई तो वह जेल जाने से भी पीछे नहीं हटेंगे। और ऐसी सरकार जो कि किसानों का  भला नहीं देखती उसे गिराने की पूरी कोशिश रहेगी।

Loading...

रामलीला मैदान में लोगों को संबोधित करने से पहले वह शुक्रवार को अन्ना हजारे महाराष्ट्र सदन से राजघाट पहुंचे, जहां उन्होंने महात्मा गांधी की प्रतिमा को नमन किया। वहां से बहादुर शाह जफर मार्ग स्थित शहीदी पार्क पहुंचकर उन्होंने शहीद भगत सिंह और सुखदेव और राजगुरु को श्रृद्धांजलि दी।

Leave a Reply

Loading...