पिरामल फाइनेंस की वित्त वर्ष 18-19 तक तीन गुना विस्तार की योजना

पिरामल फाइनेंस की वित्त वर्ष 18-19 तक तीन गुना विस्तार की योजना

पिरामल हाउसिंग फाइनेंस ने दिल्ली, गुरूग्राम और नोएडा में तीन शाखाओं के लाॅन्च के साथ दिल्ली-एनसीआर बाजार में अपनी मौजूदगी बढ़ाई। इसके तहत कंपनी दिल्ली-एनसीआर के डेवलपर्स को होम लोन, प्रोपर्टी लोन एवं छोटे विनिर्माण वित्तपोषण की सुविधा उपलब्ध कराएगा।

पिरामल ने 2016 में किराए वाली परिसंपत्तियों के साथ वाणिज्यिक कार्यालय विकास के लिए भी अपनी पेशकशों को उपलब्ध कराया। पिरामल फाइनेंस ने एनसीआर में महत्वपूर्ण होटल परिसंपत्तियों में निवेश कर वर्ष 2017 में हाॅस्पिटैलिटी सेगमेंट में प्रवेश किया। होलसेल प्लेटफाॅर्म ने 15,000 आवासीय इकाइयों की सीधे फंडिंग की है, जिनका कुल बाजार मूल्य 17,000 करोड़ रूपये है।

पिरामल फाइनेंस ने बाजार में खुदरा पेशकशों को लाया है, जो इसके मौजूदा होलसेल बिजनेस को पूर्ण करेगा और रियल एस्टेट में संपूर्ण वित्तीय उत्पाद उपलब्ध कराएगा। पिरामल फाइनेंस एनसीआर के डेवलपमेंट पार्टनर्स को सक्षम बनायेगा, ताकि वे आवश्यकतानुसार तैयार किए उत्पादों की रेंज के जरिए घर खरीदारों (वेतनभोगी और स्वरोजगारी दोनों) को लक्षित कर सकें।

पिरामल फाइनेंस और पिरामल हाउसिंग फाइनेंस के प्रबंध निदेशक खुशरू जिजिना ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर हमारे लिए एक महत्वपूर्ण बाजार है और हम यहां अपनी हाउसिंग फाइनेंस पेशकशों को लाॅन्च करके रोमांचित हैं। सितंबर 2017 में अकेले मुंबई महानगरीय क्षेत्र में इसके लाॅन्च के बाद से, हमें उम्मीद है कि मार्च 2018 तक हमारा वितरित ऋण एवं स्वीकृत राशि 1,000 करोड़ रूपये को पार कर जाएगा। हम योजना बना रहे हैं कि हमें दिल्ली-एनसीआर में भी मुंबई जैसी ही सफलता मिले।

उन्होंने बताया कि पिरामल एचएफसी की हाल की पेशकश – सुपर लोन लक्षित उपयोगकर्ताओं के बीच बिक्री बढ़ाने में प्रभावी उपकरण साबित हुआ है। यह उत्पाद एनसीआर के रियल इस्टेट बाजार की डाइनेमिक्स के लिए बिल्कुल उपयुक्त है, जिससे हमारे डेवलपमेंट पार्टनर्स की रफ्तार बढ़ रही है।

Loading...

Leave a Reply