जानिए, फौजिया अर्शी के बारे में क्या कहा कादर खान ने

0
368
views

79 वर्ष की उम्र में भी क़ादर ख़ानके मन कुछ नया सीखने के ललक हैउन्होंने एक नए निर्देशक के साथ काम करने के अनुभव के बारे में कहा कि मैं खुशनसीब हूं कि मुझे फौजिया अर्शी की सरपरस्ती में कुछ सीखने का मौका मिला. कोई डायरेक्टर नया नहीं होता है उसका काम करने का तरीका पुराने किसी डायरेक्टर से मिलता जुलता है. फौजिया अर्शी का काम मनमोहन देसाई और प्रकाश मेहरा दोनों से मिलता जुलता है. एक कॉमेडी का बादशाह था एक स्क्रीन-प्ले  और डायलॉग्स में महारथ रखता थाये दोनों ही चीजें हो गया दिमाग़ का दही  में देखने को मिलेंगी. साथ ही नई पीढ़ी के कॉमेडियन्स के बारे में उन्होंने कहा कि वे क़ादर ख़ान और आसरानी के कॉम्बीनेशन को याद रखें. बॉलीवुड में कॉमेडी का नया अध्याय यहीं से शुरू होता है

Loading...
loading...

Leave a Reply