किसी भी भूमिका में फिट बैठते हैं कादर खान

किसी भी भूमिका में फिट बैठते हैं कादर खान

फिल्म ‘हो गया दिमाग का दही’ विशेष: भारतीय सिनेमा जगत में क़ादर ख़ान को एक ऐसे बहुआयामी कलाकार के तौर पर जाना जाता है जिन्होंने सहनायकडायलॉग लेखक,खलनायक और हास्य अभिनेता के तौर पर अपनी पहचान बनाई. क़ादर ख़ानके अभिनय की एक विशेषता यह है कि वह किसी भी तरह की भूमिका के लिए उपयुक्त हैं. फिल्म कुली एवं वर्दी में एक क्रूर खलनायक की भूमिका हो या फिरबाप नंबरी बेटा दस नंबरी और प्यार का देवता जैसी फिल्मों में हास्य अभिनयइन सभी चरित्रों में उनके  अभिनय का कोई जवाब नहीं है. बाप नंबरी-बेटा दस नंबरीतकदीरवालादूल्हे राजाजुदाईकुली नं.-और राजा बाबू जैसी कई फिल्में लोगों को अगर अभी भी गुदगुदाती हैं तो उसका एक बड़ा कारण क़ादर ख़ान ही हैं. तकरीबन साल तक क़ादर ख़ानफिल्मों से दूर रहे लेकिन सारा बॉलीवुड और प्रशंसक उनकी वापसी की राह देख रहे थे. डेली मल्टीमीडिया लिमिटेड (डीएमएल) द्वारा निर्मित और फौजिया अर्शी द्वारानिर्देशित फिल्म हो गया दिमाग़ का दही  से किंग ऑफ कामेडी रुपहले पर्दे पर वापसी कर रहे हैं.
Loading...

Leave a Reply