अपने तो अपने होते हैं

0
934
views

जो व्यक्ति परिवार को महत्व देता है, वह सदैव खुश और संतुलित रहता है. सलमान भी उन्हीं में से हैं, जिनके लिए परिवार ही सबकुछ है. हाल ही में उन्होंने एक बयान भी दिया था कि उनके भाइयों और बहन के बच्चे उन्हीं के तो बच्चे हैं. इससे पता चलता है कि परिवार का उनके जीवन में क्या महत्व है. सलमान अपने परिवार के लिए संबल हैं. वह आजकल न स़िर्फ अपने भाइयों, बल्कि अपने जीजा अतुल के करियर की नईयाभी पार लगाने में लगे हुए हैं. उनके सबसे छोटे भाई सोहेल और उनके जीजा अतुल ने उन्हें लेकर कई फिल्में बनाईं, जो हिट रहीं. उन्हें देखकर उनके भाई अरबाज़ भी सलमान की लोकप्रियता को भुनाने में लग गए हैं.

यह तो सभी जानते हैं कि सलमान खान बड़े दिलवाले हैं, लेकिन अपने घरवालों के लिए तो उनका दिल और भी ब़डा है. हाल में उन्होंने बयान दिया कि उन्हें शादी करने की क्या ज़रूरत है. लोग बच्चों के लिए शादी करते हैं और उनके पास तो पहले से ही बच्चे हैं. उन्होंने बताया कि उनके भाइयों और बहन अलवीरा के बच्चे उनके ही तो बच्चे हैं. वह अपने परिवार को लेकर का़फी उदार हैं. चाहे उन्हें कोई यह क्यों न कहे कि वह फिल्म इंडस्ट्री में परिवारवाद को ब़ढावा दे रहे हैं. वह आजकल अपने भाइयों अरबाज़, सोहेल और अपनी बहन अलविरा के पति अतुल अग्निहोत्री का करियर संवारने में लगे हैं. वह इन दिनों अपने अधिकतर प्रोजक्ट अपने भाइयों और जीजा के साथ कर रहे हैं. इस साल सल्लू सोहेल की फिल्म शेर खान के बाद उनकी फिल्म मेंटल की शूटिंग करेंगे. इसके बाद इस साल वह साजिद नाडियाडवाला की फिल्म किक और प्रभुदेवा की अनाम फिल्म की शूटिंग शुरू करेंगे. अगले साल यानी वर्ष 2014 में सल्लू अपनी डेट्स अरबाज़ खान की दबंग 3 को देंगे. वहीं जीजा अतुल अग्निहोत्री की फिल्म ओ तेरी में स्पेशल अपियरेंस करेंगे. सलमान ब़डे फिल्मकारों की फिल्मों के साथ ही अपने परिवारवालों की फिल्मों के लिए टाइम निकालना नहीं भूलते. अपने भाई सलमान खान की स्टार छवि से प्रभावित होकर उनके भाइयों अरबाज़ और सोहेल ने भी फिल्मों में काम करने की सोची. उनके भाई अरबाज़ ने अपना फिल्मी करियर एक विलेन के रूप में शुरू किया. उनकी पहली फिल्म थी दरार, जिसमें उन्होंने एक साइकिक पति का किरदार निभाया था. इस फिल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर का बेस्ट एक्टर अवॉर्ड भी मिला. इसके बाद उन्होंने प्यार किया तो डरना क्या, गर्व: प्राइड एंड ऑनर, क़यामत : सिटी अंडर थ्रेट, भागमभाग, शूटआउट एट लोखंडवाला, फुल एंड फाइनल आदि दर्जनों फिल्मों में काम किया, लेकिन बावजूद इसके वह खुद को फिल्म इंडस्ट्री में स्थापित नहीं कर पाए. फिल्मों में कुछ खास न कर पाने के बाद उन्होंने छोटे पर्दे पर भी क़िस्मत आज़माई. अपनी नाक़ामयाबी का दाग़ धोने और सलमान की स्टार छवि को भुनाने के लिए अरबाज़ ने वर्ष 2010 में प्रोडक्शन कंपनी खोल ली. उनसे पहले उनके भाई और जीजा सलमान को लेकर हिट पर हिट दे रहे थे, ऐसे में भला वह क्यों पिछे रहते. उनके प्रोडक्शन में पहली फिल्म दबंग बनी, जिसमें सलमान मुख्य भूमिका में थे. अरबाज़ के अंदर अभिनय का कीड़ा भी जब तब कुलबुलाता रहता है. तभी वह अपनी फिल्मों में भाई के साथ अभिनय करते भी नज़र आते हैं. वह अपनी बीवी मलाइका को नहीं भूले. उनसे भी उन्होंने मुन्नी बदनाम… पर ठुमके भी लगवा लिए. अरबाज़ की यह फिल्म हिट हुई. इससे प्रभावित होकर उन्होंने दबंग 2 बनाई और यह फिल्म भी हिट रही. अब वह दबंग 3 बना रहे हैं. वह दर्शकों की पसंद को जानते हैं, तभी उनकी फिल्में एक के बाद एक हिट भी हो रही हैं.

सलमान के छोटे भाई सोहेल ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 1997 में फिल्म औजार से की. इस फिल्म के डायरेक्टर सोहेल थे. इस फिल्म में उनके साथ सलमान खान लीड रोल में थे. इस फिल्म में शिल्पा शेट्टी और संजय कपूर भी थे. इसके बाद उन्होंने सलमान को लेकर प्यार किया तो डरना क्या, हेलो ब्रदर और मैंने दिल तुझको दिया जैसी फिल्में बनाईं. उन्हें एक्टिंग का भी शौक़ चढ़ा, लेकिन उन्हें कुछ खास कामयाबी नहीं मिली. अपनी अधिकतर फिल्मों की पटकथा सोहेल ने लिखी. फिल्मों के अलावा वह छोटे पर्दे पर भी दिखे. कॉमेडी सर्कस का नया दौर, कहानी कॉमेडी सर्कस की और कॉमेडी सर्कस का अजूबा में वह दिखे. इस दौरान उन्होंने सल्लू को लेकर बतौर प्रोड्यूसर फिल्में बनाना जारी रखा. उन्होंने सलमान को लेकर लकी, मैंने प्यार क्यों किया, पार्टनर, गॉड तुसी ग्रेट हो, मैं और मिसेज खन्ना बनाईं. उनकी पिछली फिल्म रेड्डी सुपरहिट रही, तो उन्होंने सल्लू को लेकर पहली 3डी अडवेंचर फिल्म शेर खान अनाउंस कर दी. फिलहाल वह सलमान स्टारर फिल्म मेंटल की शूटिंग शुरू करने की तैयारी कर रहे हैं, जो इस साल ईद पर रिलीज होगी.

अतुल अग्निहोत्री ने दर्जनों फिल्मों में काम किया, जिनमें से कुछ फिल्में हिट रहीं, लेकिन अतुल फिल्मों में कुछ खास मुक़ाम नहीं बना पाए, तो उन्होंने वर्ष 2004 में दिल ने जिसे अपना कहा से डायरेक्शन के क्षेत्र में उतर आए. इस फिल्म की पटकथा अतुल ने ही लिखी थी. असफल होने के बाद अतुल ने वर्ष 2008 में मल्टीस्टारर फिल्म हेलो बनाई. इस फिल्म में प्रोड्यूसर-डायरेक्टर अतुल थे. सलमान ने अपने जीजा का करियर संभालने उनकी फिल्मों में अभिनय कर रहे हैं. इनमें से कुछ फिल्में हिट भी रहीं.

Loading...
loading...

Leave a Reply